0
अपने दौर के दुनिया के सबसे बड़े जहाज टाइटेनिक के डूबने और जहाज पर जैक और रोज की प्रेम कहानी पर आधारित हॉलीवुड फिल्म टाइटेनिक को आपने देखा ही है और इस Titanic Movie को बनाने वाले का नाम है लियोनार्डो डि कैप्रियो और केट विंसलेट अभिनीत 1998 में बनाया गया | और वास्तविक टाइटेनिक जहाज के डिजाइनर थॉमस एंड्रूज थे || लेकिन इस फिल्म मे जो आपको नहीं दिखाया गया है वह आप हमारी पोस्ट टाइटेनिक जहाज के बारे मे रोचक और महत्वपूर्ण तथ्य मे जानगे ||


टाइटेनिक जहाज


आपको इतना तो मालूम ही होगा की टाइटैनिक की घटना वास्तविक थी || चलिए जानते है थोड़ा टाइटेनिक के बारे मे - 



RMS टाइटैनिक दुनिया का सबसे बड़ा वाष्प आधारित यात्री जहाज था। वह साउथम्पटन (इंग्लैंड) से अपनी प्रथम यात्रा पर, 10 अप्रैल 1912 को रवाना हुआ। चार दिन की यात्रा के बाद, 14 अप्रैल 1912 को वह एक हिमशीला से टकरा कर डूब गया जिसमे 1,517 लोगों की मृत्यु हुईं जो इतिहास की सबसे बड़ी शांतिकाल समुद्री आपदाओं में से एक है।

टाइटेनिक जहाज के बारे मे रोचक  जानकारी -

  •  टाइटैनिक जहाज डूबने से ठीक पहले एक जापानी यात्री बच निकला था. जब वह जापान ठीक-ठाक पहुंच गया तो वह बहुत शर्मिंदा हुआ. उसने भावुक मन से कहा कि उसे भी जहाज के साथ डूब जाना चाहिए था ||
  •  टाइटैनिक फिल्म का सबसे भावुक पल तब था जब जहाज में बैंड के सदस्य यात्रियों को शांत करने के लिए लगातार संगीत बजा रहे थे. ऐसा वास्तव में भी हुआ था. जहाज में सवार बैंड ग्रुप ने लोगों को डूबने के डर से शांत करने के लिए घंटों तक संगीत बजाया था||
  •  मिल्टन हरशे, जिसने दुनिया की सबसे बेहतरीन चाकलेट बार का निर्माण किया था, ने भी टाइटैनिक जहाज की टिकट खरीदी थी. लेकिन उसकी बाद में जहाज में जाने की योजना बदल गयी थी||

  •  टाइटैनिक जहाज में चार चिमनियाँ थी, लेकिन इसकी चौथी चिमनी काम नहीं करती थी. चौथी चिमनी सिर्फ दिखावे के लिए बनाई गई थी|| आधे से ज्यादा जीवनरक्षक किश्तिओं को उनकी पूरी क्षमता तक नहीं भरा गया था ||
  • टाइटैनिक जहाज में यात्रियों को रहने के लिए तीन श्रेणीयों में विभाजित किया गया था ||
  •  इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था जिसमें सिर्फ एक हिमशैल की वजह से पूरा जहाज डूब गया था |
  •  टाइटैनिक जहाज के डूबने के एक दिन पहले जहाज में जाने वाले यात्रियों पर मॉक-ड्रिल करने की योजना थी जिसमें यह बताया जाता कि आपातकालीन स्थिति में क्या करना चाहिए. लेकिन यह योजना स्थगित कर दी गयी थी ||
  •  टाइटैनिक जहाज, जिस हिमशैल से टकराया था, वह हिमशैल लगभग पिछले 1000 वर्षों से समुद्र में तैर रहा था ||
  •  टाइटैनिक फिल्म का बजट टाइटैनिक जहाज की उस समय की कुल कीमत से भी ज्यादा था ||
  •  टाइटैनिक जहाज डूबने से बचने वाले लोगों में से एक कुक भी था. वह सिर्फ इसी कारण से बच गया था क्योंकि उसने इतनी शराब पी ली थी कि जिससे उसका शरीर ठण्ड में भी गर्म रहा||
  •  उस समय कैलिफोर्निया नाम का एक ओर जहाज, टाइटैनिक जहाज के नजदीक था लेकिन दोनों जहाजों में संचार व्यवस्था टूट गई थी, जिससे कैलिफ़ोर्नियन जहाज पर सवार लोग उनका बचाव नहीं कर सके ||
  • टाइटैनिक जहाज में अपनी पहली यात्रा पर 10 अप्रैल 1912 को शुरु की थी. चार दिन की यात्रा के बाद 14 अप्रैल 1912 को वह हिमखंड से टकरा कर पानी में डूब गया था. जिसमे 2,208 यात्रियों और चालक दल शामिल थे. जिसमे से 1496 लोग मरे थे और 712 लोग बच गये थे||
  • 26 जोड़े इस जहाज पर अपना हनीमून मनाने आये थे |
  • टाइटैनिक जहाज दुर्घटना से बचने वाली अंतिम यात्री Millvina Dean थी. जिसकी 31 मई 2009 को 97 साल में मृत्यु हुयी थी ||
  • बर्फ के पहाड़ से टकराने के बाद टाइटैनिक को डूबने में 2 घंटे 40 मिनट लगे थे ||
  • टाइटैनिक जहाज त्रासदी को लेकर वेबसाइट(https://www.encyclopedia-titanica.org/) बनी है जिस पर दुर्घटना के बारे में विस्तृत विवरण दिए गये हैं. इस वेबसाइट पर जहाज के क्रू मेम्बेर्स और कर्मचारियों, मृतकों और बचने वालों की पूरी लिस्ट भी दी गयी है. देखें वेबसाइट

कैसे बना दुनिया का सबसे बड़ा जहाज ?

  • जहाज की लम्बाई 291.5 मीटर थी जो उस दौर की सबसे बड़ा जहाज था !
  • इसमे एक दिन मे करीब 825 टन कोयला इस्तेमाल होता था और 100 टन राख हर रोज़ निकलता था|
  • टाइटेनिक का बनाने मे करीब 7500000$ का खर्च हुआ था !

कयामत की वो रात


  • 16 लाइफ वोट इस्तेमाल करने मे करीब 80 मिनट लग गये ! पहली लाइफ वोट मे केवल 28 लोग बैठे क्योंकि बाकी लोगों को लगा ही नही की जहाज डूब सकता है 
  • लाइफ वोट मे 472 से ज्यादा लोग आ सकते थे !

बर्फ की चट्टान की कहानी 

  • टाइटेनिक को उस चट्टान से टकराने मे पहले छह चेतावनी मिली थी !
  • टाइटेनिक जब डूब रहा था वह जहाज के सफर का चौथा दिन था ! और ज़मीन से करीब 640  किलोमीटर दुर !
  • बर्फ की चट्टान दिखने और जहाज के उससे टकराने के बीच सिर्फ तीस सेकंड का फासला था !
  • जहाज को डूबने मे 2 घंटे और 40 मिनट का समय लगा था !

आपको हमारी पोस्ट टाइटेनिक जहाज के बारे मे कैसी लगी बताना न भूले और आपके पास टाइटेनिक जहाज के बारे मे  मे ज्यादा जानकारी हो तो हमसे share करे जिससे हम आपकी जानकारी और टाइटेनिक जहाज के बारे मे  लोगो को ज्यादा जानकारी दे सके ||

कृपया जानकारी शेयर करे अधिक जाने नीचे कमैंट्स KMGWEB.IN पर साम्रगी ज्ञानवर्धन के लिए है यहाँ क्लिक से हमारे बारे में शारीरिक उपाय आजमाने से पहले चिकित्‍सक अथबा सलाहकार से मिले Kindly Share Article click icons⤵

Post a Comment