0

रहस्यमय 130 साल पुरानी डेडबॉडी के बारे मे

राजस्थान की राजधानी जयपुर के अल्बर्ट मियूजियम मे रखी हुई 322 ईसा पूर्व की ममी इन दिनो चर्चा मे है | यह ममी है मिस्र राजघराने के पुजारी परिवार की महिला तूतू की | यहा बहुतों की तादाद मे लोग पाहुचते है और प्राचीन इतिहास एंव मौत के बाद के रहस्यो को जानकार हेरान हो जाते है | ममी से जुड़े जानकारी लोग बहुत ही उतसूक्ता से सुनते है और उतने ही उत्सुकता से सैकड़ों साल पुरानी डेडबॉडी का एक्सरे प्रिंट भी देखते है | यह मूजियम 130 साल पुराना है और इतना ही समय हो गया इस मूजियम मे रखे ममी को रखे हुए | यह ममी 19वी सदी के अंतिम दशक मे मिस्र के काहिरा से जयपुर लाया गया था | इस ममी की वर्तमान स्थिति का जायजा लेने के लिए 6 साल पहले एक्सरे किया गया |

Mummi


130 साल से रखी है डेडबॉडी, रहस्यमय है इसकी कहानी |



  • इस म्यूजियम मे रखी ममी तूतू नामक महिला की है | और इस ममी को प्राचीन नगर पैनोपोलिस मे अखमीन से प्राप्त किया गया था | इस ममी को बताया जाता है 322 से 30 ईस्वी पूर्व के टौलोंमाइक युग की है | यह महिला खेम नामक देव के उपासक पुरोहित के परिवार की सदस्य थी |
  • ममी के देह के ऊपरी भाग पर प्राचीन मिस्र का पंखयुक्त भृंग [ गुबरैला ] का प्रतीक अंकित है जो  मृत्यु के बाद जीवन और पुनर्जन्म का का प्रतीक माना जाता है | इस ममी के पवित्र भृंग के दोनों और प्रमुख देव का शीर्ष तथा सूर्य के गोले को पकड़े श्येन पक्षी मे होरस देवता का चित्र है |
  • तूतू ने नीचे चोड़े मोतियो से सज्जित परिधान गर्दन से कमर तक कालर के रूप मे पहना हुआ है | इस बॉडी पर पंखदार देवी का अंकन डेडबॉडी की सुरक्षा के लिए किया गया है | ममी के नीचे के तीन हिस्सो मे से पहले हिस्से पर, चीता की चेय्या पर डेडबॉडी के दोनों ओर महिलाए बनी हुई है | दूसरे हिस्से पर पाताल लोक के निर्णायकों की तीन बैठी हुई छविया है | और ममी के तीसरे हिस्से पर होरस देव के चार बेटो जो चारो दिशाओ के रक्षक दिक्पाल है | और इनकी छविया कर्म से मानव, सियार और बाज के रूप मे दिखाए गए है |
ई जाती है. यह महिला खेम नामक देव के उपासक पुरोहितों के परिवार की सदस्य थी. (फोटो- म्यूजियम में रखी ममी

)

कृपया जानकारी शेयर करे अधिक जाने नीचे कमैंट्स KMGWEB.IN पर साम्रगी ज्ञानवर्धन के लिए है यहाँ क्लिक से हमारे बारे में शारीरिक उपाय आजमाने से पहले चिकित्‍सक अथबा सलाहकार से मिले Kindly Share Article click icons⤵

Post a Comment