0

रेनसमवेयर वायरस के बारे मे क्या है और इससे कैसे बचे

अभी हाल ही मे इस वायरस रेनसमवेयर के बारे मे काफी चर्चा मे थी कारण था Atm Machine से Rupees का गायब हो जाना ! इस रेनसमवेयर वायरस के कारण कई सारे Atm खाली मिलती जिससे हमे काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता ! तो आज हम आपको इसी रेनसमवेयर वायरस के बारे मे  बताने वाले है !

रेनसमवेयर वायरस क्या


इंटरनेट पर बहुत से कम्प्युटर वाइरस और स्मार्ट फोन वाइरस मिल जाते है | लेकिन सबसे खतरनाक वायरस रेनसंमवेयर सीसी(Ransomware Virus) आज कल बहुत ज्यादा पोपुलर है |

यह पढे - कम्प्युटर मे फास्ट हिन्दी कैसे टाइप करे 

इसलिए आपको इस वायरस के बारे मे जानकारी होनी चाहिए यह वायरस क्या है और इससे हम कैसे बच सकते है | (what is ransomware virus in hindi) तो चलिए आज रेमसमवेयर (Ransomware Virus) की चर्चा करते है |



रेनसंमवेयर एक प्रकार का वायरस होता है जो बाकी वायरस से बहुत ज्यादा खतरनाक है - अगर यह वाइरस आपके कम्प्युटर या स्मार्ट फोन मे एक बार आ जाए तो आपका आपके लैपटाप या कम्प्युटर या स्मार्टफोन पर कोई कंट्रोल नहीं रहेगा | यह वायरस जिस किसी ने आपके Device मे वायरस डाला होगा उस attacker के पास आपके सिस्टम का पूरा कंट्रोल होगा | तो अब आपको समझ मे आ गया होगा की रेमसंमवेयर वायरस क्या है और यह कितना खतरनाक है - रेमसमवेयर के बारे मे 

रेनसमवेयर वायरस क्या है { what Is Ransomware }

आपको पता ही होगा वायरस का काम आपके कम्प्युटर या लैपटाप या फोन पर अटैक करना होता है लेकिन रेनसमवेयर वायरस आपके कम्प्युटर को पूरी तरह से अपने कब्जे मे ले लेता है मतलब अटैकर के पास आपके कम्प्युटर का पूरा कंट्रोल होता है | अटैकर आपके कम्प्युटर पर कब्जा करने के बाद आपके सिस्टम को लॉक कर देता है और फिर आप अपने सिस्टम पर कुछ नहीं कर सकते ऐसा करने के बाद अटैकर आपसे पैसे की मांग करता है या फिर आपके सिस्टम का सारा डाटा delete या लीक करने को बोल सकता है | अब आपके पास दो ही रास्ते बचते है पहला अटैककर की बात मान लो दूसरा अपना नुकसान होने दो |
ज़्यादातर इस वायरस का प्रयोग बड़े बड़े बिज़नस मे किया जाता है या फिर बड़े बड़े हॉस्पिटल बैंक इत्यादि मे किया जाता है लेकिन क्या पता कौन कब हमारे कम्प्युटर लैपटाप या मोबाइल पर अटैक कर दे | तो उससे हमे सावधानी रखने की जरूरत है - तो अब हम जानते है कैसे रेनसमवेयर  (Ransomware Virus) वायरस से बचा जा सकता है |

रेनसमवेयर वाइरस  (Ransomware Virus) से क्या कर सकता .....हैकर ????

  • आपके कम्प्युटर का कंट्रोल हैकर के पास चला जाता है फिर वह आपके कम्प्युटर को लॉक कर देता है |
  • हैकर पैसे की डिमांड आपसे करता है |
  • हेकर आपको धमकी दे सकता है डाटा लीक करने की ||
  • हैकर आपको डाटा को डिलीट कर देता है |


रेनसमवेयर वायरस (Ransomware Virus) से कैसे बचे

1.डाटा का बैकअप बनाये : रेनसमवेयर वायरस से बचने के लिए सबसे पहले आपको अपने डाटा का बैकअप बनाना चाहिए ये स्टेप बहोत ही जरुरी है क्यों की हैकर आपके डाटा अगर डिलीट भी मार देता है तो आपको कोई चिंता की बात नहीं है इशलिये इस वायरस अटैक से बचने के लिए आपको अपने सिस्टम का बैकअप बना के रखना बहोत जरुरी है



2.अननॉन लिंक और सॉफ्टवेर इनस्टॉल न करे : बहोत से लोग जिस मर्जी लिंक पे क्लिक करदेते है जिससे अपने आप कोइ सॉफ्टवेर इनस्टॉल हो जाता है आपके कंप्यूटर में स्मार्ट स्मार्टफ़ोन तो ये एक रेनसमवेयर वायरस (Ransomware Virus) हो सकता है इशलिये किसी भी ऐसे वेबसाइट या फिर ईमेल में आपको लिंक भेजे तो आपको उन अननॉन लिनक्स पर क्लिक नहीं करना है | सबसे जरूरी बात अगर आप अपने कम्प्युटर मे कोई सॉफ्टवेर इन्स्टाल करने जा रहे है तो उनही सॉफ्टवेर को install करे जिनके बारे मे आप जानते है | क्योकि Unknown Software मे वायरस हो सकता है |

टिप्स - अपने कम्प्युटर लैपटाप से एसे सारे सॉफ्टवेर या एप्स अनइन्स्टाल करदे जिनहे आप नहीं जानते क्योकि थर्डपार्टी एप आपकी कम्प्युटर की डेटेल्स चुरा सकती है |

ईमेल मे आए किसी भी फ़ाइल को डाउनलोड न करे -
अगर आपके ईमेल पर कोई फ़ाइल आए और आपको Attachment डाउनलोड को कहे तो आप उसे डाउनलोड न करे क्योकि हैकर इस तरह आपके कम्प्युटर मे वाइरस इन्स्टाल कर सकता है |

यह पढे - लैपटाप ओवरहीट समस्या और समाधान कैसे करे ??

कम्प्युटर मे फायरवाल को ऑन रखे - कम्प्युटर मे फायरवाल ऑन रखे साथ ही कोई Paid Antivirus का प्रयोग करे | 

कृपया जानकारी शेयर करे अधिक जाने नीचे कमैंट्स KMGWEB.IN पर साम्रगी ज्ञानवर्धन के लिए है यहाँ क्लिक से हमारे बारे में शारीरिक उपाय आजमाने से पहले चिकित्‍सक अथबा सलाहकार से मिले Kindly Share Article click icons⤵

सवाल जवाब पुंछे करे

कमेंट बॉक्स में अपने विचारों से अवगत करायें लेकिन याद रखे लोगिन कर Publish बटन क्लिक करते ह, अभद्र भाषा का प्रयोग ना करें Advertising comments not allowed