खतरनाक मगरमच्छ के रोचक तथ्य - Interesting facts about the crocodile

मगरमच्छ एक खतरनाक प्राणी है मगरमच्छ को देखकर ही भयानक डर सा महसूस हो जाता है वैसे तो हमने चिड़ियाघर मे मगरमच्छ देखा तो है लेकिन क्या आप मगरमच्छ [ crocodile ] के बारे मे रोचक तथ्य जानते है अगर नहीं तो आज हम जानेगे crocodile के रोचक तथ्य |


 crocodile fact In hindi


  • मगरमच्छ [ crocodile ] दो तरह के पाए जाते है एक वह जो मीठे पानी मे रहते है और दूसरा वह जो खारे पानी मे रहता है |
  • मगरमच्छ Amarica, Africa, Asia, और Australia मे ज़्यादातर पाए जाते है |
  • मगरमच्छ की अब तक 23 प्रजातीय पहचानी जा चुकी है |

  • मगरमच्छ की ज़्यादातर प्रजातिय विलुप्त होने के कगार पर है |
  • मगरमच्छ का चमड़ा या खाल उच्च दामो मे उधोग फेशन मे काफी महगा बेचा जाता है |
  • मगरमच्छ की उम्र लगभग 80 साल की होती है |
  • मगरमच्छ के सामने बरसात मे कभी न जाए क्योकि उस समय वह काफी घातक हो जाते है |
  • मगरमच्छ कई हफ़्तों तक बिना कुछ खाए पिए जीवित रह सकता है }
  • मगरमच्छ एक ठंडे खून वाला प्राणी है |
  • मगरमच्छ को पसीना नहीं आता कारण यह ग्रंथि उनके अंदर नहीं होती |
  • आपने देखा होगा मगरमच्छ को जबड़ा खोलते हुए वह ऐसा इसलिए करते क्योकि इससे वह ठंडे रहते है |
  • मगरमच्छ का जबड़ा लगभग पूरे विश्व मे सबसे मजबूत जबड़ा माना जाता है |
  • मगरमच्छ खाने को चबाकर नहीं बल्कि निगल कर खाते है |
  • मगरमच्छ के पूरे 34 तेजधार वाले दाँत होते है और यह धार इंसान को मारने के लिए काफी होता है |
  • आपने एक कहावत है सुनी होगी "मगरमच्छ के आँसू बहाना" यह कहावात मगरमच्छ पर ही बना है कारण मगरमच्छ खाना खाते समय आँसू बहाते है |

  • खारे पानी मे रहने वाले मगरमच्छ मीठे पानी मे रहने वाले मगरमच्छ से लंबे होते है |
  • मगरमच्छ का जीवन इस धरती पर लगभग 24 करोड़ साल पुराना है |
  • डाइनाशोर मगरमच्छ के करीबी माने जाते है |
SHARE

Milan Tomic

Hi. I’m Designer of Blog Magic. I’m CEO/Founder of ThemeXpose. I’m Creative Art Director, Web Designer, UI/UX Designer, Interaction Designer, Industrial Designer, Web Developer, Business Enthusiast, StartUp Enthusiast, Speaker, Writer and Photographer. Inspired to make things looks better.

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 Comments:

Post a Comment