कागज की खोज - kagaj ki khoj in india

कागज की खोज सबसे पहले कहॉ हुई, kagaj ki khoj in india, kagaj ka avishkar itihash, कागज कैसे बनता है, कागज के खोजकर्ता का नाम, कागज बनाने वाले देश का नाम

कागज का प्रयोग आपने किया तो है लेकिन क्या आप कागज के इतिहास के बारे मे जानते है जैसे - कागज की खोज किसने किया, कागज का इतिहास क्या है, भारत मे कागज का आरम्भ कब और कैसे हुआ | अगर आपको नही पता है तो आज इस लेख मे आपको कागज के बारे मे जानकारी प्राप्त होगी आइये जाने कागज के बारे मे |

कागज - कागज को बनाने के लिए घास फूंस, लकड़ी, कच्चे माल, सेलुलोज-आधारित उत्पाद का प्रयोग किया जाता है |  कागज की महत्वता क्या है इससे आप भली भाति परिचित है | कागज का प्रयोग शिक्षा, व्यापार, बैंक, इत्यादि मे किया जाता है | कागज का आर्थिक और सामाजिक व्यवस्था मे महत्वपूर्ण योगदान है इसके बिना कार्यप्रणाली को पूरा कर पाना सम्भव नहीं हो पाता |

kagaj avishkar
कागज का सर्वप्रथम प्रयोग चीन मे किया गया साथ ही कहा जाता है हान राजवंस के [ 202 ई.पू. ] मुख्य शाशक हो - टिश के राज दरबार मे त साई लून द्वारा कागज निर्माण की कला को लोगो के सामने लाया | यह जो कागज बना था वह भांग, शहतूत, पेड़ के छालो तथा अन्य तरह के रेशो का प्रयोग करके कागज बनाया गया था | यह कागज काफी चमकीला, मुलायम, लचीला, और चिकना होता था | कागज बनाने का तरीका धीरे धीरे पूरे दुनिया मे फैलाया गया | "त- साई - लून को " कागज के संत " के रूप मे सम्मान किया जाता है |



भारत मे कागज की खोज -
यह बात तो साफ है की कागज की खोज का श्रेय चीन को जाता है लेकिन चीन के बाद भारत मे कागज का निर्माण और प्रयोग का संकेत सिंधु सभ्यता से प्राप्त होता है |

कागज के बारे मे तथ्य -
  • कहा जाता है भारत मे कागज नेपाल के आर्ग से आया था लेकिन इस विषय पर कोई प्रमाण और विश्वाष के कोई स्पष्ट साक्ष्य नहीं मिलते है |
  • चीनी यात्री इत्सिंग द्वारा लिखी पुस्तक मे कागज का उल्लेख किया गया है जिसमे कहा गया है की कागज का प्रथमया आदान - प्रदान भारत से हुआ लेकिन इस बात का कोई स्पष्ट साक्ष्य नहीं प्राप्त होता है |
  • अलबरुनी फारसी विद्वान लेखक ने यह साफ कर दिया की कागज का आविष्कार चीनीयो ने किया था और अरब देश के वाशियों ने चीनियो के केंप पर कब्जा बनाकर कागज निर्माण का फार्मूला प्राप्त किया | इस तरह से कागज बनाने की तकनीकी पूरे विशाव ए फ़ैली |


भारत मे कागज के उद्योग -
  • भारत मे कागज बनाने की शुरुवात मुगल काल मे हुआ |
  • कश्मीर के सुल्तान जैनुल आबिदीन द्वारा सबसे पहला कागज बनाने की मिल कश्मीर मे स्थापित किया |
  • आधुनिक कागज का उद्योग कलकत्ता मे हुगली नदी के तट पर बाली नामक स्थान पर स्थापित किया |
  • बंगाल मे सन 1887 मे टीटा कागज मिल्स को स्थापित किया गया लेकिन यह मिल कागज को बनाने मे सफल न हो पाई |

SHARE THIS

Admin:

भारत एक ऐसा देश है जहां से हर गली, हर नुक्कड़ से अनगिनत कहानिया निकलती है और उन कहानियो को आप तक पहुंचाने मे मदद करता है केएमजीवेब . हमारे बारे मे अधिक जाने क्लिक से;?

2 comments:

  1. प्रिया21:18

    पंखा की खोज किसने किया

    ReplyDelete
  2. Anonymous16:12

    KMG web

    ReplyDelete