0
यूनाइटेड वर्ड रेसलिंग ने कुश्ती के नियमो मे बड़ा बदलाव किया है | अब किसी भी चैंपियनशिप मे पहलवानों का वजन एक दिन पहले नहीं बल्कि बाउट से 2 घंटे पहले किया जाएगा | अब तक एक ही दिन मे होने वाले सभी बाउट भी 2 दिन मे कराई जाएगी |


पहले दिन सेमीफाइनल तक की बाउट होगी तो दूसरे दिन रैपचेज़ और मेडल के लिए मुक़ाबले होंगे | नए नियम एक जनवरी से लागू होंगे और भारतीय पहलवानों को इन नियमो का ज्यादा फायदा होगा | नियमो मे बदलाव से फाइनल राउंड तक पहुचने वालो पहलवानों को राहत मिलेगी क्योकि अभी तक फाइनल राउंड तक के मुक़ाबले एक ही दिन होते थे |  अब एक दिन का राम मिलने से अगले दिन नई एनेर्जी से मैट से उतरेंगे |


साथ ही रैपचेज़ व मेडल के लिए अगले दिन होने वाली बाउट मे किसी पहलवान का 2 किलो तक वजन बढ़ जाता है | तो उसके बावजूद भी मुक़ाबला लड़ सकेंगा | ग्रीको रोमन मुक़ाबले मे किसी पहलवान को डिफेंस करने पर उसे बैठने की बजाव लेटना होगा | उसके बाद दूसरा पहलवान दांव लागाएगा | डिफेंस करने वाले पहलवान के लिए नए नियम मे परेशानी बढ़ सकती है |

kushti photo

यूडबल्यूडबल्यू ने कुश्ती के नियम मे बदलाव किया है जो एक जनवारी 2018 से लागू होंगे | पहले एक दिन क्वालिफाई से लेकर फाइनल व रैपचेज़ बाउट कराई जाती थी | लेकिन अब मेडल बाउट दूसरे दिन होगी | वेट भी अब बाउट से दो घंटे पहले करवाया जाएगा

कुश्ती मे हुए बड़े बदलाव

  • बाउट से 2 घंटे पहले पहलवानों का वेट किया जाएगा |
  • एक दिन के बजाय अब 2 दिन मे होंगे प्रतियोगिता के मुक़ाबले
  • रैपचेज़ और मेडल के लिए मुक़ाबले दूसरे दिन होंगे पहले दिन सेमीफाइनल तक बाउट होगी |
  • रैपचेज़ और मेडल की बाउट के लिए पहलवान का वजन दो किलो तक बढ़ाने पर भी लड़ सकेगा |
  • ग्रीको रोमन मुक़ाबले मे डिफेंस करने पर बैठने की जगह लेटना होगा |
  • Pls Share

Post a Comment