0
रिश्ते के नाम बता रहे है लेकिन यह रिश्ते कुछ अलग तरह के है  rishte wikipedia in hindi यह रिश्ता क्या कहलाता है | रिश्तों की अहमियत शायरी rishte के बारे मे जानिए, रिश्तों का महत्व |
रिश्ते शायरी
“दिल से बंधी एक डोर, जो दिल तक जाती है 
और वही रिश्तों की बगिया को महका देती है”

रिश्ते meaning in english, रिश्ते kavita, रिश्ते नाते निभाने पर शायरी, यह रिश्ता क्या कहलाता है | 

एक इंसान के कई रिश्ते होते है कुछ पास तो कुछ दूर, कुछ से दिल का नाता होता है तो कुछ दिल के बहुत करीब होते है, कुछ रिश्ते खून के भी होते है और कुछ रिश्ते खून के नहीं होते हुए भी खून जैसे होते है |

कुछ रिश्ते शादियों में बंध जाते है तो कुछ बिना शादी के ही साथ-साथ होते है. कुछ रिश्तों में धोखा मिल जाता है तो कुछ में भरोसा टूट जाता है. कुछ रिश्ते ईमानदारी की बुनियाद पर टिके होते है तो कुछ रिश्ते बिना बंधन के ही आप में बंध जाते है |

एक रिश्ता वही होता है जिससे हमें ख़ुशी मिल सके. दुनिया बनाने वाले ने सिर्फ इंसान से इंसान का रिश्ता बनाया है लेकिन हमने उन्हें नए-नए नाम दे दिए है. आज की इस पोस्ट में हम आपको ऐसे ही कुछ रिश्तों के प्रकार बताएँगे, जिन्हें जानकार आप रिश्तों को और अच्छे से समझ पाएंगे |

रिश्तों के प्रकार Typer Of Relationship

1. बिना बंधन का रिश्ता (Open Relationship) 
बिना बंधन के रिश्ते को Open Relationship भी कहते है. इसमें आप और आपका साथी एक Relation में होते हुए भी दुसरे के साथ शारीरिक संबध बनाने के लिए आजाद है. इस रिश्ते की सबसे ख़ास बात है ईमानदारी. इसमें आपके साथी को पता होता है की आप किसी और के साथ शारीरिक संबध बना रहे है फिर भी उसको आप पर भरोसा है. इस तरह के रिश्ते में इसको गलत नहीं माना जाता है. Open Relationship की कई वजह हो सकती है. एक रिश्ते में होते हुए किसी और से प्यार, नए सेक्स का रोमांस आदि. कुछ प्रेमियों के लिए यह सही है लेकिन कुछ के लिए गलत और मुश्किलें बढाने वाला है. ऐसे रिश्तों में जलन पैदा हो जाती और यही जलन कड़वाहट को जन्म देती है और कोई एक ना एक रिश्ता जरुर खत्म हो जाता है. 



2. एक से अधिक रिश्ते (Many Relationship) इसमें यह भी हो सकता है की आपके रिश्तों के बारे में आपके साथी को पता हो या नहीं भी पता हो. इस तरह के रिश्ते आपके साथी को धोखा देने जैसे है. जिस साथी को आप 7 जन्मो का वचन देकर साथ लाये और अब उसके साथ ऐसा करना धोखे से कम नहीं है. इस तरह के रिश्ते भरोसे को खत्म कर देता है. कई बार एक रिश्ते में होते हुए भी सेक्स की भूख नए रिश्तों को जन्म दे देती है. जब आपके साथी को पता चलता है की आपका किसी और के साथ संबध या अफेयर है तो उसके दिल को बहुत बड़ी चोट पहुँचती है और ऐसे में आपका रिश्ता खत्म हो जाता है. 

3. कमिटेड रिश्ते (Committed Relationship) इन्हें वचन वाले रिश्ते कह सकते है. ऐसे रिश्तों में वफादारी सबसे अहम है. इसमें शारीरक संबध के साथ-साथ भावनाओं का भी कमिटमेंट होता है. ऐसे रिश्तों में भरोसा, ईमानदारी, वचन सब बहुत मायने रखते है. इसमें साथी एक-दुसरे से भावनात्मक रूप से अटेच होते है. ऐसे रिश्तों में शादी के बाद की खुशहाल जिंदगी आती है, जिसमे आपने कई साल ख़ुशी-ख़ुशी साथ बिता दिए होते है. 

4. दूर के रिश्ते (Distance Relationship) यह ऐसे रिश्ते होते है जिनमे दोनों साथी अलग-अलग जगह, शहर या देश में रहते है. इसका मतलब यह है की वे कभी-कभी ही मिल पाते है. ऐसा कई बार नौकरी के कारण, आर्मी या सरकारी जॉब के कारण भी हो सकता है. ऐसे रिश्ते आज के समय में पहले जितने मुश्किल नहीं है और इसका कारण है बदलती Technology. आज के टाइम में Mobile, Social Networking Sites, Video Chat जैसे माध्यम से इन रिश्तों को पास ला दिया है. लेकिन फिर भी सेक्स, हाथों में हाथ, किस, Long Drive आदि सब तो आप Online नहीं कर सकते ना. इसे दोनों साथी बहुत Miss करते है. 

5. लिव इन रिलेशनशिप (Live In Relationship) इसे बिना शादी बाला रिश्ता कह सकते है. इस रिश्ते में बिना शादी के दोनों साथी एक साथ रहते है. कुछ देशों में यह सामान्य बात है लेकिन बहुत से देशों में इस तरह साथ नहीं रह सकते है. बिना शादी के दो लोगों के साथ रहने के कई कारण हो सकते है. Single Life जीना, आर्थिक स्थिति का मजबूत ना होना, समलैंगिक आदि कई कारण हो सकते है. Live In Relationship में रहना लगभग शादी जैसा ही माना जाता है, बस इसमें रीती-रिवाज नहीं होते है लेकिन प्यार एक जैसा ही होता है. मजबूतियों ने इस तरह के रिश्तों को जन्म दिया है, लेकिन प्यार ने इस तरह के रिश्तों को भी शादी जैसा बना दिया है. कई देशों में तो काफी सालों तक Live In में रहने को शादी के बाद हुए तलाक जैसी मान्यता दे दी है. 

6. शादी का रिश्ता (Marriage Relationship) सबसे पवित्र रिश्तों में से एक रिश्ता है शादी का रिश्ता. मन्त्रोचारण, 7 जन्मों का वादा, अग्नि को साक्षी मानकर दो लोग शादी के बंधन में बंधते है, इसलिए इस रिश्ते को बहुत पवित्र रिश्ता माना जाता है. लोग कहते है जोड़ियां भगवान बनाता है और शादी के रूप में इंसान उसे मिला देता है. इसमें Love Marriage के बाद परिवार की सहमती से शादी Arrange Marriage की तरह हो सकती है. शादियाँ बहुत ही धूमधाम से की जाती है. इसमें हर पल ख़ुशी के पल के रूप में Record किया जाता है और शादी की तारिख को सालगिरह के रूप में मनाया जाता है. उम्मीद करता हु की इस पोस्ट को पढ़कर आप अच्छे से रिश्तों की परिभाषा समझ गए होंगे. 

अगर आप भी इनमे से किसी रिश्ते में है तो हमें जरुर बताएं. इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और कमेंट बॉक्स में अपने विचार दे.
  • Pls Share

Post a Comment