आत्मा क्या होता है समझे atma kya hai

आत्मा क्या होता है समझे atma kya hai

आत्मा क्या होती है आइये समझे, आत्माओ का रहस्य, आत्माओ की कहानी,आत्मा से संपर्क आत्मा को कैसे देखे
Atma Meaning In Hindi - आत्मा एक हिन्दी शब्द है और उर्दू मे आत्मा को "रूह" के नाम से जाना जाता है आत्मा क्या है आइये जाने आत्मा या रूह का रहस्य, आत्मा को English Meaning "Spirit"
आप पढ़ रहे है Atma kya hai
क्या इंसान जिन्न जिन्नात को देख सकता है
आत्मा का रहस्य
आत्मा या रूह इंसान के जिस्म के अंदर पाए जाने वाली ऐसी शक्ति या जान है जो नजर नहीं आती मतलब देखा नहीं जा सकता है लेकिन आत्मा होती है | अगर किसी इंसान के बॉडी या शरीर से आत्मा रूह निकल जाए तो इंसान मर जाता है | आत्मा आदमी औरत बच्चो बूढ़ो और हर किसी जानदार मे पाई जाने वाली जान को कहते है |





अगर आपके मन मे यह सवाल उठ रहा है क्या आत्मा किसी को मार सकती है या आत्मा दिखाई देती है या आत्मा भूत होते है तो इसका जवाब है नहीं | आत्मा का मतलब यह नहीं की वह भूत हो या लोगो को डरा सके | इस्लाम मे आत्मा या रूह के बारे मे बताया गया है जब किसी इंसानी शरीर से आत्मा बाहर निकाल ली जाती है तो वह आत्मा अपने शरीर मे घुसने का प्रयास करती है लेकिन उसके इंसानी शरीर मे प्रवेश के बावजूद भी इंसान चल फिर नहीं सकता और ना ही सांस ले सकता है | ऐसा तब तक चलता है जब तक उस इंसान को जला ना दिया जाए या दफन ना कर दिया जाए | साथ ही मे यह भी इस्लाम मे कहा गया है की किसी इंसान की आत्मा बाहर आ जाने के बाद मृत इंसान के घर को पूरे 40 दिन तक नहीं छोड़ कर जाती है और मृत इंसान के घर वाले जब रोते है तो वह आत्मा चिल्लाती है क्यू रो रहे हो मैं यही हु लेकिन उस आत्मा को कोई नहीं देख सकता और ना ही सुन सकता है | जब 40 दिन बीत जाते है तो आत्मा या रूह अपने मालिक [ भगवान, अल्लाह God ] के पास चली जाती है | आत्मा तब तक अपने मालिक के पास रहेगी जब तक की कयामत न आ जाए | कयामत मतलब होता है Last Day Of Word या हिन्दी मे कह सकते है दुनिया का आखिरी दिन |



कयामत के बाद क्या होगा आत्माओ का इस्लाम 
इस्लाम मे जिक्र किया गया है जब पूरी दुनिया तबाह हो जाएगी यानि दुनिया खत्म जब हो जाएगी फिर दुनिया के सभी इन्सानो की आत्माओ का अपने भगवान अल्लाह God के पास हाजिरी होगी और फिर आत्माओ का हिसाब - किताब  [ पाप का लेखा जोखा ] होगा |

पाप और पुण्य को नापने के लिए एक तराजू होगा जिस पास पाप और पुण्य को नापा जाएगा मतलब तराजू के एक और पाप को रखा जाएगा और दूसरी और पुण्य को जिसका पलड़ा भारी [ पाप भारी या पुण्य भरी ] होगा उसी के हिसाब से दोज़ख [ जहन्नुम नर्क ] या जन्नत [ स्वर्ग ] मे डाल दिया जाएगा |

आत्माओ के बारे मे लगभग सभी धर्म मे इसी तरह के अपने खुद के Concept है और आज भी आत्माओ को लेकर कई रिशर्च हो रहे है | एक वाकया याद आ गया उसे भी बता देता हु |

कुछ समय पहले की बात है आत्मा क्या होती है इसको लेकर रिशर्च हो रहा है तो वैज्ञानिको द्वारा इसका पता लगाने के लिए एक इंसान पर प्रयोग किया क्या प्रयोग था आइये जानते है |
जिन्न जिन्नात की आबादी तादाद 
वैज्ञानिको ने आत्मा का पता लगाने के लिए एक इंसान को इंतजाम किया जो मरने वाला हो मतलब कोई एक ऐसा इंसान जिसको मौत आने वाली थी | इस इंसान को वैज्ञानिको ने एक सीसे मे कवर कर दिया और देखने लगे क्या होता है जब इंसान मरता है क्या कोई शक्ति बाहर निकलती है | इसके बाद जो हुआ उससे वैज्ञानिक भी मान गए आत्मा होती है क्योकि जब वह इंसान मरा तो सीसा टूट गया | इससे साफ पता चलता है आत्मा होती है यह एक न्यूज चैनल पर भी दिखाया जा चुका है | अब इससे बड़ा प्रमाण क्या हो सकता है की सच मे आत्मा होती है |
क्या इंसान जिन्न जिन्नात को देख सकता है

क्या इंसान जिन्न जिन्नात को देख सकता है

Jin Jinnat Ki Tadad, Jin ki Shadi, Jin Ki Duniya, Jin ki ladki, jin ko bhagana jin ka pyar, jin ko paisa magna
अल्लाह पाक ने दुनिया मे सिर्फ इन्सानो को ही नहीं पैदा किया मतलब इंसानी दुनिया मे जिन्न जिन्नात भी रहा करते है लेकिन हम उन्हे नहीं देख सकते | ठीक इसी तरह दुनिया मे और भी बहुत कुछ है जिससे हम आज भी अंजान है खेर जो भी हो, हम बार करते है क्या इंसान जिन्न जिन्नात देख सकता है |

क्या जिन्न इंसान को दिखाई देता है ???
जिन्न जिन्नात को देखना किसी सामान्य व्यक्ति के लिए संभव नहीं है ऐसे चंद ही लोग होते है जो किसी इल्म द्वारा या कुदरती करीशमा से जिन्नों को देखने की ताकत या शक्ति रखते है | एक साहिह हदीस मुनद अहमद व अबुदायूद की रियायत है अगर तुम रात मे गधे या कुत्ते की आवाज सुनो तो अल्लाह के जरिये शैतान से पनाह मांगो ऐसा इसलिए क्योकि गधे और कुत्ते ऐसी चीज देखते है जो  तुम नहीं देख सकते है | कुरान मे जिक्र है इसका की इंसान जिन्न जिन्नात को नहीं देख सकता लेकिन बेजुबान जानवर सब कुछ देख लेता है |



साइंस ने इस बात को माना है की जानदार जानवर ऐसी चीज देख पाते है जो आम इंसान के बस मे नहीं मतलब जो इंसान नहीं देख पाता वह जानवर देख सकता है | एक खास बात तो हमेशा से काही जाती है जब कोई आपदा जैसे भूकंप, सुनामी इत्यादि आने वाली होती है तो सबसे पहले जानवरो को इस बात की खबर हो जाती है और वह भागने चिल्लाने लगते है |

इसके आलवा एक और हदीस आयतल कुर्सी की फाजिलत मे आती है इसका जिक्र कुछ इस तरह किया गया है - एक जगह माल या दौलत राखी हुई थी जिसको चोरी करने के लिए एक शख्स आया लेकिन ,माल की हिफाजत करने वाले ने उस शख्स को पकड़ लिया तो चोर ने अपनी मजबूरी बताई और कहा आइंदा से चोरी न करने का वादा करता हु फिर वह चला गया |  दूसरे दिन अल्लाह के रशूल माल के रखवालों से पूछा की कल रात तुम्हारे किदी का क्या हुआ | तो उन सभी ने बताया ऐसा ऐसा हुआ और उसने वादा किया दुबारा चोरी ना करने का |



इस बात पर मुहम्मद स. अ. व. स. ने फरमाया की वह झुटा है ............यह हदीस काफी लंबी है हमने यहाँ हदीस का मफ़हूम ब्यान किया है .... पूरी हदीस के लिए किताब का राब्ता करे ....

गरज यह है की हदीस से जो बात सामने आती है की कुछ लोग इन्सानो मे ऐसे भी होते है जो किसी ऐसे जिन्न जिन्नात को जो इंसान के रूप मे सामने आ जाते है तो देख लेते है |
जीन्नात को एक दिन मे वश मे करने का आसान अमल