विवाह में हो रही हो देरी तो करे शीघ्र विवाह उपाय

विवाह में हो रही हो देरी तो करे शीघ्र विवाह उपाय

पुत्री या पुत्र की शादी के लिए शीघ्र विवाह उपाय - क्या आपकी पुत्री या पुत्र की शादी मे देरी हो रही है अगर हा तो शीघ्र विवाह के लिए बृहस्पति के उपाय करना जरूरी है | शादी मे विलंब होने पर निवारण करना जरूरी है | जिसके लिए कुंडली मे ग्रहो के कारण आने वाली मुसीबतों को दूर करना जरूरी होती है | अगर आपके बृहस्पति को मजबूती मिल जाए तो आपके सारे मांगलिक कार्य अच्छे ढंग से होने लग जाएँगे | जिसके लिए गुरु के कुछ उपाय है जो किसी के भी विवाह मे आने वाली बांधा को दूर कर देंगे |
vivah me deri upay

विवाह में विलंब होने पर इन उपाय से जल्द होगी शादी -

  • बृहस्पति के दिन गाय को गेंहू के आंटे से बनी दो रोटी गुड़ के साथ खिलाने से जल्दी शादी के योग बन जाते है |
  • रामचरित मानस का भी पाठ रोजाना करे और बालकांड मे शिव एंव पार्वती के विवाह से संबन्धित अध्याय पढ़ने से विवाह मे आने वाली बाधाये दुर हो जाती है |
  • विवाह शीघ्र होने के लिए शिव जी की कृपा युवक और युवतियो पर होना जरूरी है | जिसके लिए युवक और युवतियो को हर सोमवार ॐ नमः शिवाय का जाप करना चाहिए |
  • अगर आपकी शादी मे बधाए आ रही है तो आप हर रोज 108 बार ॐ नमः शिवाय का जाप करे लेकिन ध्यान रहे यह जाप रुद्राक्ष की माला लेकर करना है |
  •  अगर किसी परिवार के लोग लड़की के घर लड़की को देखने आए तो लड़की को लाल कलर का कपड़ा पहनना चाहिए इससे सकरात्मक प्रभाव बनता है |
  • जो बालक और बालिकाए शादी के लिए योग्य है उन्हे चाहिए की न्यू कपड़े पहनने चाहिए |
  • अगर लड़के के विवाह मे देरी हो रही है या प्रेम विवाह मे अड़चन आ रही है तो लड़के को शीघ्र विवाह के लिए श्रीकृष्ण के मंत्र का जाप 108 बार करना चाहिए |
श्रीकृष्ण मंत्र -“क्लीं कृष्णाय गोविंदाय गोपीजनवल्लभाय स्वाहा।”


  • अगर किसी लड़की को विवाह नहीं हो प रहा है तो लड़की को चाहिए जब किसी शादी मे जाए तो जब दुल्हन को मेहंदी लगाई जाए | तो उस दुल्हन से थोड़ी मेहंदी अपने हाथो पर भी रचवा ले |इससे विवाह का मार्ग शीघ्र प्रशस्त होता है।
  • पूर्णिमा को वट वृक्ष की 108 बार चक्कर लगाने से शादी मे जो बांधा बन रही होती है वह खत्म हो जाती है
  • विवाह योग्य स्त्री या पुरुष को अपने शरीर पर कोई भी एक पीला वस्त्र जरूर धरण करना चाहिए |
मेरी शादी कब होगी बय डेट ऑफ बर्थ कैलकुलेटर

मेरी शादी कब होगी बय डेट ऑफ बर्थ कैलकुलेटर

shadi या vivah kab hoga शादी कब होगी - क्या आप अपनी शादी के लिए इच्छुक है लेकिन आपकी शादी नहीं हो पा रही है किसी कारण तो अब शादी के लिए तरशना छोड़े और ज्योतिष के सहारे जाने शादी कब होगी बय डेट ऑफ बर्थ से जाने | शादी कब होगी कैलकुलेटर से भी पता किया जा सकता है | हम जल्द ही आपके लिए शादी योग कैलकुलेटर यहा लाने वाले है | हमने अपनी पिछली पोस्ट दो शादी का योग कुंडली मे आपको बताया था जन्मकुण्डली का सातवा घर शादी का होता है और शुक्र विवाह शादी का कारक माना जाता है |

कुंडली मे कौन से ग्रह होने से जल्दी शादी होती है चित्र से समझे -

meri shadi kab hogi yog by kundali


  • जन्मकुण्डली मे 4 ग्रह अगर हो तो शुभ माना जाता है और वह ग्रह है - गुरु, शुक्र, बुध, चंद्र |
  • जन्मकुण्डली मे अगर यह चार ग्रह हो तो पाप या अशुभ ग्रह माना जाता है - शनि, मंगल, राहू, केतू, सूर्य
  • पाप ग्रह - यह ग्रह शादी मे देरी का कारण बनते है |
  • शुभ ग्रह - यह ग्रह शादी जल्दी करवाने का कारण बनते है |
सातवे स्थान पर कुंडली मे बुध ग्रह का होना - आप पहले यह जान ले कुंडली मे जो 7वा स्थान होता है वह ही शादी के लिए होता है | अगर सातवे स्थान पर बुध मौजूद हो तो समझिए शादी का योग जल्दी बनेगा | अगर इस स्थान पर शुक्र भी है तो भी शादी का योग जल्दी बन जाता है |


सातवे स्थान पर कुंडली मे सूर्य का होना - अगर 7वे स्थान पर कुंडली मे अगर सूर्य विद्वान है तो शादी मे रुकावट का कारण बनता है या फिर शादी मे रुकावट या अड़चन आती है |

सातवे स्थान पर कुंडली मे मंगल का होना  - अगर 7वे स्थान पर कुंडली मे मंगल मौजूद है तो मांगलिक दोष बनता है शादी मे देरी हो सकती है साथ ही इसे अशुभ भी माना जाता है |

सातवे स्थान पर कुंडली मे गुरु का होना - यदि 7वे स्थान ओर गुरु विद्वान है तो शादी की उम्र 24 से 26 साल मे हो जाती है | वही अगर शनि विद्वान है तो शादी मे देरी का कारण बनेगा | गुरु के होने से शादी मे देरी होने का कारण यह की आपके उम्र के सभी लोगो की शादी हो चुकी होगी | इतना ही नहीं आपसे जो छोटे होंगे उनका भी विवाह आपसे पहले हो चुका होगा |


अगर आप जानना चाहते है की आपकी शादी कब होगी तो आप हमे यहा क्लिक से ईमेल कर सकते है अपनी जन्मकुंडली | हम आपके ग्रहो नक्षत्र को देखकर बता सकते है कि आपकी शादी या विवाह का योग कब बन रहा है या आपके कुंडली मे क्या अच्छा या बुरा है |