आत्मा क्या होता है समझे atma kya hai

आत्मा क्या होता है समझे atma kya hai

आत्मा क्या होती है आइये समझे, आत्माओ का रहस्य, आत्माओ की कहानी,आत्मा से संपर्क आत्मा को कैसे देखे
Atma Meaning In Hindi - आत्मा एक हिन्दी शब्द है और उर्दू मे आत्मा को "रूह" के नाम से जाना जाता है आत्मा क्या है आइये जाने आत्मा या रूह का रहस्य, आत्मा को English Meaning "Spirit"
आप पढ़ रहे है Atma kya hai
क्या इंसान जिन्न जिन्नात को देख सकता है
आत्मा का रहस्य
आत्मा या रूह इंसान के जिस्म के अंदर पाए जाने वाली ऐसी शक्ति या जान है जो नजर नहीं आती मतलब देखा नहीं जा सकता है लेकिन आत्मा होती है | अगर किसी इंसान के बॉडी या शरीर से आत्मा रूह निकल जाए तो इंसान मर जाता है | आत्मा आदमी औरत बच्चो बूढ़ो और हर किसी जानदार मे पाई जाने वाली जान को कहते है |





अगर आपके मन मे यह सवाल उठ रहा है क्या आत्मा किसी को मार सकती है या आत्मा दिखाई देती है या आत्मा भूत होते है तो इसका जवाब है नहीं | आत्मा का मतलब यह नहीं की वह भूत हो या लोगो को डरा सके | इस्लाम मे आत्मा या रूह के बारे मे बताया गया है जब किसी इंसानी शरीर से आत्मा बाहर निकाल ली जाती है तो वह आत्मा अपने शरीर मे घुसने का प्रयास करती है लेकिन उसके इंसानी शरीर मे प्रवेश के बावजूद भी इंसान चल फिर नहीं सकता और ना ही सांस ले सकता है | ऐसा तब तक चलता है जब तक उस इंसान को जला ना दिया जाए या दफन ना कर दिया जाए | साथ ही मे यह भी इस्लाम मे कहा गया है की किसी इंसान की आत्मा बाहर आ जाने के बाद मृत इंसान के घर को पूरे 40 दिन तक नहीं छोड़ कर जाती है और मृत इंसान के घर वाले जब रोते है तो वह आत्मा चिल्लाती है क्यू रो रहे हो मैं यही हु लेकिन उस आत्मा को कोई नहीं देख सकता और ना ही सुन सकता है | जब 40 दिन बीत जाते है तो आत्मा या रूह अपने मालिक [ भगवान, अल्लाह God ] के पास चली जाती है | आत्मा तब तक अपने मालिक के पास रहेगी जब तक की कयामत न आ जाए | कयामत मतलब होता है Last Day Of Word या हिन्दी मे कह सकते है दुनिया का आखिरी दिन |



कयामत के बाद क्या होगा आत्माओ का इस्लाम 
इस्लाम मे जिक्र किया गया है जब पूरी दुनिया तबाह हो जाएगी यानि दुनिया खत्म जब हो जाएगी फिर दुनिया के सभी इन्सानो की आत्माओ का अपने भगवान अल्लाह God के पास हाजिरी होगी और फिर आत्माओ का हिसाब - किताब  [ पाप का लेखा जोखा ] होगा |

पाप और पुण्य को नापने के लिए एक तराजू होगा जिस पास पाप और पुण्य को नापा जाएगा मतलब तराजू के एक और पाप को रखा जाएगा और दूसरी और पुण्य को जिसका पलड़ा भारी [ पाप भारी या पुण्य भरी ] होगा उसी के हिसाब से दोज़ख [ जहन्नुम नर्क ] या जन्नत [ स्वर्ग ] मे डाल दिया जाएगा |

आत्माओ के बारे मे लगभग सभी धर्म मे इसी तरह के अपने खुद के Concept है और आज भी आत्माओ को लेकर कई रिशर्च हो रहे है | एक वाकया याद आ गया उसे भी बता देता हु |

कुछ समय पहले की बात है आत्मा क्या होती है इसको लेकर रिशर्च हो रहा है तो वैज्ञानिको द्वारा इसका पता लगाने के लिए एक इंसान पर प्रयोग किया क्या प्रयोग था आइये जानते है |
जिन्न जिन्नात की आबादी तादाद 
वैज्ञानिको ने आत्मा का पता लगाने के लिए एक इंसान को इंतजाम किया जो मरने वाला हो मतलब कोई एक ऐसा इंसान जिसको मौत आने वाली थी | इस इंसान को वैज्ञानिको ने एक सीसे मे कवर कर दिया और देखने लगे क्या होता है जब इंसान मरता है क्या कोई शक्ति बाहर निकलती है | इसके बाद जो हुआ उससे वैज्ञानिक भी मान गए आत्मा होती है क्योकि जब वह इंसान मरा तो सीसा टूट गया | इससे साफ पता चलता है आत्मा होती है यह एक न्यूज चैनल पर भी दिखाया जा चुका है | अब इससे बड़ा प्रमाण क्या हो सकता है की सच मे आत्मा होती है |
क्या इंसान जिन्न जिन्नात को देख सकता है

क्या इंसान जिन्न जिन्नात को देख सकता है

Jin Jinnat Ki Tadad, Jin ki Shadi, Jin Ki Duniya, Jin ki ladki, jin ko bhagana jin ka pyar, jin ko paisa magna
अल्लाह पाक ने दुनिया मे सिर्फ इन्सानो को ही नहीं पैदा किया मतलब इंसानी दुनिया मे जिन्न जिन्नात भी रहा करते है लेकिन हम उन्हे नहीं देख सकते | ठीक इसी तरह दुनिया मे और भी बहुत कुछ है जिससे हम आज भी अंजान है खेर जो भी हो, हम बार करते है क्या इंसान जिन्न जिन्नात देख सकता है |

क्या जिन्न इंसान को दिखाई देता है ???
जिन्न जिन्नात को देखना किसी सामान्य व्यक्ति के लिए संभव नहीं है ऐसे चंद ही लोग होते है जो किसी इल्म द्वारा या कुदरती करीशमा से जिन्नों को देखने की ताकत या शक्ति रखते है | एक साहिह हदीस मुनद अहमद व अबुदायूद की रियायत है अगर तुम रात मे गधे या कुत्ते की आवाज सुनो तो अल्लाह के जरिये शैतान से पनाह मांगो ऐसा इसलिए क्योकि गधे और कुत्ते ऐसी चीज देखते है जो  तुम नहीं देख सकते है | कुरान मे जिक्र है इसका की इंसान जिन्न जिन्नात को नहीं देख सकता लेकिन बेजुबान जानवर सब कुछ देख लेता है |



साइंस ने इस बात को माना है की जानदार जानवर ऐसी चीज देख पाते है जो आम इंसान के बस मे नहीं मतलब जो इंसान नहीं देख पाता वह जानवर देख सकता है | एक खास बात तो हमेशा से काही जाती है जब कोई आपदा जैसे भूकंप, सुनामी इत्यादि आने वाली होती है तो सबसे पहले जानवरो को इस बात की खबर हो जाती है और वह भागने चिल्लाने लगते है |

इसके आलवा एक और हदीस आयतल कुर्सी की फाजिलत मे आती है इसका जिक्र कुछ इस तरह किया गया है - एक जगह माल या दौलत राखी हुई थी जिसको चोरी करने के लिए एक शख्स आया लेकिन ,माल की हिफाजत करने वाले ने उस शख्स को पकड़ लिया तो चोर ने अपनी मजबूरी बताई और कहा आइंदा से चोरी न करने का वादा करता हु फिर वह चला गया |  दूसरे दिन अल्लाह के रशूल माल के रखवालों से पूछा की कल रात तुम्हारे किदी का क्या हुआ | तो उन सभी ने बताया ऐसा ऐसा हुआ और उसने वादा किया दुबारा चोरी ना करने का |



इस बात पर मुहम्मद स. अ. व. स. ने फरमाया की वह झुटा है ............यह हदीस काफी लंबी है हमने यहाँ हदीस का मफ़हूम ब्यान किया है .... पूरी हदीस के लिए किताब का राब्ता करे ....

गरज यह है की हदीस से जो बात सामने आती है की कुछ लोग इन्सानो मे ऐसे भी होते है जो किसी ऐसे जिन्न जिन्नात को जो इंसान के रूप मे सामने आ जाते है तो देख लेते है |
जीन्नात को एक दिन मे वश मे करने का आसान अमल
जादू टोना बुरी नजर कैसे उतारे मंत्रो से - Nazar Utarne Ka Mantr Hindi

जादू टोना बुरी नजर कैसे उतारे मंत्रो से - Nazar Utarne Ka Mantr Hindi

बुरी नजर उपाए, बुरी नजर मंत्र, बुरी नजर से छुटकारा, बुरी नजर से कैसे बचे नजर कैसे उतारे नजर उतारने का तरीका मंत्र
कुछ ऐसी घटनाए होती है जो हमारी खुशहाल भरी लाइफ मे आ जाती है और हमे परेशान करती है और इसमे से एक नजर लग जाना भी है | अगर किसी को नजर लग जाती है तो वह इंसान परेशान रहता है और कितना भी दवा करा लो पर ठीक नहीं होता है | नजर लगना कई तरह का होता है जैसे - इंसान को लगी नजर, रोजगार मे घाटा, नौकरी न मिलना इत्यादि | अगर आपको भी लगता है कि आपको नजर लगी है तो नज़र लगने के उपाय खुद ही कर सकते है क्योकि आज नजर उतारने के मंत्र आपको बताने वाले है साथ मे buri Nazar से Bachne के Upay


बुरी नजर क्यो लगती है -

जब भी आप किसी काम मे कामयाबी और धन प्राप्ति करते है तो हमारे आस पास कुछ ऐसे लोग होते है जिनहे आपकी कामयाबी से जलन होती है | इस जलन के कारण आपसे जलने वाला आप पर टोना टोटका कर देता है जिससे आपको कई प्रकार के नुकसान होने स्टार्ट हो जाते है |


buri njar se bache


बुरी नजर के लक्षण या पहचान

  • जब भी किसी को नजर लगती है तो नजर लगे व्यक्ति को धन व्यापार अथवा रोजगार जैसे चीजे मे नुकसान उठाना पड़ता है | पैसो कि कमी होने लगती है और परिवार के सदस्य बीमार होने लगते है |
  • पारिवारिक क्लेश - लड़ाई झगड़ा इत्यादि जैसी समस्याओ देखने को मिलती है |
  • कभी कभी बुरी नजर बहूत ही घटक साबित होटी है जिस भी व्यक्ति पर बुरी नजर लगी होती है उसकि जान भी जाने का खतरा भी पैदा हो सकता है |

बुरी नजर से कैसे उतारे - 
  • अगर आपको लगता है आपको बुरी नजर या परिवार को लग गई है तो भेरों मंदिर जाए और वहा से मिलने वाला काला धागा धारण करे और पूरे परिवार को भी धारण करवाए |
  • नजर उतारने के लिए सरसों [ पीली ] लाल मिर्च सुखी हुई और अजवाइन को किसी भी एक पात्र [ बर्तन ] मे जला ले और उससे निकलते हुए धुआ नजर लगे व्यक्ति को हल्के हाथो से दे इस तरीके से नजर जल्दी उतर जाएगा |
  • अगर आपके काम काज वाले स्थान पर बुरी नजर न लगे एसा चाहते है तो घर के बाहर नींबू और हरी मिर्च को शनिवार या मंगलवार को एक धागे मे पिरोकर लटका दे ध्यान दे कि जब भी यह सूखे तो इसे तुरंत बदल दे |
  • खाने पीने या भूख न लगना यह भी नजर लग जाता है इसे उतारने के लिए इमली कि तीन छोटी डालियो को लेकर आग मे जला दे फिर नजर लगे व्यक्ति के माथे पर 7 बार घुमाकर पानी मे बुझा दे | जिस भी पानी मे आपने आग बुजाई हैउस पानी को नजर लगे व्यक्ति को पिलाए |
हनुमान चालीसा के फायदे Benefits Of Hanuman Chalisa

हनुमान चालीसा के फायदे Benefits Of Hanuman Chalisa

हनुमान जी सर्वसक्तिमान और एकमात्र ऐसे देवता है जिंनका नाम जपने से ही संकट दूर हो जाता है | हनुमान चालीसा पाठ करने के बहुत सारे फायदे है जैसे - हनुमान चालीसा का पाठ करने से हमारी जिंदगी मे आने वाली बाधाओ को रोका जा सकता है जो भी नित ध्यान से हनुमान चालीसा करता है यहा क्लिक से पढे - वह संकट से मुक्त हो जाता है तो आज हम उन्ही चमत्कारी फायदे को हम बताने वाले है जो हनुमान चालीसा ( Hanuman Chalisa ) के पाठ से हमे प्राप्त होता है |



hanuman chalisa


हनुमान चालीसा के लाभ - 

  • हनुमान चालीसा को डर, भय, संकट या विपत्ति आने पर पढ़ने से सारे कष्‍ट दूर हो जाते हैं।
  • अगर किसी व्‍यक्ति पर शनि का संकट छाया है तो उस व्‍यक्ति का हनुमान चालीसा पढ़ना चाहिए। इसस उसके जीवन में शांति आती है
  • अगर किसी व्‍यक्ति को बुरी शक्तियां परेशान करती हैं तो उसे चालीसा पढ़ने से मुक्ति मिल जाती है।

  • कोई भी अपराध करने पर अगर आप ग्‍लानि महसूस करते हैं और क्षमा मांगना चाहते है तो हनुमान चालीसा का पाठ करें।
  • भगवान गणेश की तरह हनुमान जी भी कष्‍ट हरते हैं। ऐसे में हनुमान चालीसा का पाठ करने से भी लाभ मिलता है।
  • हनुमान चालीसा पढ़ने से मन शांत होता है तनाव मुक्‍त हो जाता है। hanuman ji 
  • सुरक्षित यात्रा के लिए हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ें। इससे लाभ मिलता है और भय नहीं लगता है।
  • किसी भी प्रकार की इच्‍छा होने पर भगवन हनुमान के चालीसा का पाठ पढ़ने से लाभ मिलता है। 
  • हनुमान चालीसा के पाठ से दैवीय शक्ति मिलती है। इससे सुकुन मिलता है।
  • हनुमान जी बुद्धि और बल के ईश्‍वर हैं। उनका पाठ करने से यह दोनों ही मिलते हैं।
  • हनुमान चालीसा का पाठ करने से कुटिल से कुटिल व्‍यक्ति का मन भी अच्‍छा हो जाता है।
  • हनुमान चालीसा का पाठ करने से एकता की भावना में विकास होता है। 
  • हनुमान चालीसा का पाठ करने से नकरात्‍मक भावनाएं दूर हो जाती है और मन में सकारात्‍मकता आती है।
तरक्की मे बांधा इन 5 तरीके से करे दूर

तरक्की मे बांधा इन 5 तरीके से करे दूर

तरक्की मे आए रुकावट तो आजमाए 5 तरीके होगा फायदा -

तरक्की मे बांधा आ जाए तो क्या करे - हर एक इंसान मेहनत करता है और चाहता है नाम हो पैसा हो और लोग उसे जाने | जिसके लिए हर इंसान जी तोड़ मेहनत भी करता है | ज़्यादातर लोग सफल हो जाते है लेकिन कुछ लोगो की समस्या होती है जैसे की वह मेहनत तो पूरी करते है लेकिन फिर भी तरक्की पाने मे असफल हो जाते है | तरक्की मे आए रुकावट के कारण कई लोग निराश होकर मेहनत करना ही छोड़ देते है |



आपके मेहनत करने के बाद भी असलता मिल रही है या फिर आपका बेडलक  [ खराब समय ] आपका पीछा नहीं छोड़ रहा तो अब अप परेशान न हो | क्योकि आज हम आपको 5 ऐसे आसान उपाय बताने वाले है जिनहे अपनाकर आप अपनी तरक्की मे आए रुकावट को आसानी से दूर कर सकते है |
जिन्न जीन्नात भूत को मारना और जिस्म से निकालने का एक तरीका

जिन्न जीन्नात भूत को मारना और जिस्म से निकालने का एक तरीका

jin jinnat bhoot ko marna aur jism se nikalne ka ek tareeqa:- 


जिन्न भूत को भगाना और जिन्न को मारना पीटना एक बड़े आलिम ए दिन इब्ने ताइमीया रह. के मुतबिक मजलूम भाई की मदद करना एक ईमान वाले भाई की मदद करना एक ईमान वाले का फर्ज है ! Asebzadah ( जिसे जिन्न के असरात हो ऐसा ) इंसान भी मजलूम है लेकिन अल्लाह के हुकुम के मतबीक इंसाफ के साथ मदद करना होगा ! अगर जिन्न समझाने के बाद भी ना माने तो उसे डाटडपट करना गाली गलौज करना धमकी देना और लात मलामत करना जायज है ! जैसा की प्यारे नवी (muhmmad sallahualayhi wasllam) ने उस शैतान के साथ किया जो आपके चेहरे मुबारक पर मारने के लिए आग का शोला ले कर आया था !


आप s.a.w.s. ने फरमाया था :-  मैं तुझसे अल्लाह की पनाह चाहता हूँ ! मैं तुझ पर अल्लाह की लानत भेजता हूँ ! इस तरह आपने तीन दफा फरमाया !
किसी आसेबजदह शक्स के इलाज यानी जिन्न को भगाने के लिए कुछ लोग उसे खुश कर के उसकी माँगे पूरी करके या किसी चीज़ की कुर्बानी देकर या किसी बकरा बकरी की बलि देकर जिन्न को भगाते है लेकिन रुहानी इल्म मे यह अमल नही अपनाया जाता बल्की जिस शक्स को असरात हो गये हो उसके जिस्म से जिन्न जीन्नात निकालने के लिए सबसे पहले उस जिन्न को समझया जाता है और और जब वह नही मानता है तो जिसे असरात हो उसे मारा जाता है और यह अमल आमिल लोग करते है जिससे यह मार जिन्न को लगती है ! इस तरह उस जिन्न खूब मारा पिता जाता है लेकिन यह बात अच्छी तरह समझ लिजिए की जरूरी नही की हर बीमारी का इलाज इसी तरह किया जाए और हर बीमारी को जिन्न भुत से जोड़ कर देखा जाए बल्की सबसे पहले डॉक्टर को दिखाया जाए और अगर कोई बीमारी हो तो इलाज किया जाए !

पढ़े :-
1. जीन्नात की आबीदी ( तादाद )
2. Mohabbat KA Amal Surah Falak Ki Taweez Se
जीन्नात की जानाकरी - जीन्नात क्या है

जीन्नात की जानाकरी - जीन्नात क्या है

Jinnaat Ki Jankari - Jinnat Kya Hai ?

इंसानों और फरिश्तों और दूसरे हवानौ के इलावा अल्लाह पाक ने एक और कौम इबादत के लिए बनाया है जिसको जीन्नात कहते है और इसकी तस्दीक कुरान से देख ले !

surah dhariyat verse no 56
وَمَا خَلَقْتُ الْجِنَّ وَالْإِنسَ إِلَّا لِيَعْبُدُونِ ﴿٥٦﴾ (56) اور میں نے جنّات اور انسانوں کو صرف اسی لئے پیدا کیا کہ وہ میری بندگی اختیار کریں، 
जीन्नात को अल्लाह पाक ने आग से पैदा किया है और इंसान को मिट्टी से !

surah rehman verse no 15
وَخَلَقَ الْجَانَّ مِن مَّارِجٍ مِّن نَّارٍ ﴿١٥﴾ (15) اور جنّات کو آگ کے شعلے سے پیدا کیا،

जीन्नात और इंसानों मे कुछ चीजो मॉ फर्क होता है ! जीन्नात इंसानों को नज़र नही आते है इसकी तस्दीक कुरान मे है !


surah al araf verse no 27
يَا بَنِي آدَمَ لَا يَفْتِنَنَّكُمُ الشَّيْطَانُ كَمَا أَخْرَجَ أَبَوَيْكُم مِّنَ الْجَنَّةِ يَنزِعُ عَنْهُمَا لِبَاسَهُمَا لِيُرِيَهُمَا سَوْآتِهِمَا ۗ إِنَّهُ يَرَاكُمْ هُوَ وَقَبِيلُهُ مِنْ حَيْثُ لَا تَرَوْنَهُمْ ۗ إِنَّا جَعَلْنَا الشَّيَاطِينَ أَوْلِيَاءَ لِلَّذِينَ لَا يُؤْمِنُونَ ﴿٢٧﴾ (27) اے آدم کی اولاد تمہیں شیطان نہ بہکائے جیسا کہ اس نے تمہارے ماں باپ کو بہشت سے نکال دیا ان سے ان کے کپڑے اتروائے تاکہ تمہیں ان کی شرمگاہیں دکھائے وہ اور اس کی قوم تمہیں دیکھتی ہے جہاں سے تم انہیں نہیں دیکھتے ہم نے شیطانوں کو ان لوگوں کا دوست بنادیا ہے جوایمان نہیں لاتے

जीन्नात इंसान से पहले से इस दुनिया मे है इसकी तस्दीक कुरान पाक मे है देखले !


surah hijar verse no 26,27
وَلَقَدْ خَلَقْنَا الْإِنسَانَ مِن صَلْصَالٍ مِّنْ حَمَإٍ مَّسْنُونٍ ﴿٢٦﴾ (26) اور البتہ تحقیق ہم نے انسان کو بجتی ہوئی مٹی سے جو سڑے ہوئے گارے سے تھی پیدا کیا وَالْجَانَّ خَلَقْنَاهُ مِن قَبْلُ مِن نَّارِ السَّمُومِ ﴿٢٧﴾ (27) اور ہم نے اس سے پہلے جنوں کو آگ کے شعلے سے بنایا تھا

नेक और बद जिन्न :- 
जो मख्लूक अल्लाह की ना फ़रमान है इसको शैतान कहते है और जो नेक और गायर मौजर इनको जिन्न कहते है !

जीन्नात की ताकत :-
अल्लाह ताला ने जीन्नो को ऐसे सलेहत और ताकत बख्शे है जो इंसानों को भी नही बख्शे है ! अल्लाह ने इनको इतनी ताकत दी है की जीन्नात मिनटों सेकोन्डो मे एक जगह से दूसरे पहुँच जाती है !


surah namal verse no 39,40
قَالَ عِفْرِيتٌ مِّنَ الْجِنِّ أَنَا آتِيكَ بِهِ قَبْلَ أَن تَقُومَ مِن مَّقَامِكَ ۖ وَإِنِّي عَلَيْهِ لَقَوِيٌّ أَمِينٌ ﴿٣٩﴾ (39) جنوں میں سے ایک دیو نے کہا میں تمہیں وہ لا دیتا ہوں اس سے پہلے کہ تو اپنی جگہ سے اٹھے اور میں اس کے لیے طاقتور امانت دار ہوں قَالَ الَّذِي عِندَهُ عِلْمٌ مِّنَ الْكِتَابِ أَنَا آتِيكَ بِهِ قَبْلَ أَن يَرْتَدَّ إِلَيْكَ طَرْفُكَ ۚ فَلَمَّا رَآهُ مُسْتَقِرًّا عِندَهُ قَالَ هَـٰذَا مِن فَضْلِ رَبِّي لِيَبْلُوَنِي أَأَشْكُرُ أَمْ أَكْفُرُ ۖ وَمَن شَكَرَ فَإِنَّمَا يَشْكُرُ لِنَفْسِهِ ۖ وَمَن كَفَرَ فَإِنَّ رَبِّي غَنِيٌّ كَرِيمٌ ﴿٤٠﴾ (40) اس شخص نے کہا جس کے پاس کتاب کا علم تھا میں اسے تیری آنکھ جھپکنے سے پہلے لا دیتا ہوں پھر جب اسے اپنے روبرو رکھا دیکھا تو کہنے لگا یہ میرے رب کا ایک فضل ہے تاکہ میری آزمائش کرے کیا میں شکر کرتا ہوں یا ناشکری اور جو شخص شکر کرتا ہے اپنے ہی نفع کے لیے شکر کرتا ہے اورجو ناشکری کرتا ہے تو میرا رب بھی بے پرواہ عزت والا ہے

जीन्नात की फिजा मे उड़ने की लिमिट ( limit ):-

जीन्नात 1 limit तक ही उड़ सकता है फिजा मे ! इससे ज्यादा ऊपर नही उड़ सकता है ! अल्लाह ताला ने इन पर हद बन्द दी है जिँनातो पर !


surah jinn verse no 8,9
وَأَنَّا لَمَسْنَا السَّمَاءَ فَوَجَدْنَاهَا مُلِئَتْ حَرَسًا شَدِيدًا وَشُهُبًا ﴿٨﴾ (8) اور ہم نے آسمان کو ٹٹولا تو ہم نے اسے سخت پہروں اور شعلوں سے بھرا ہو ا پایا وَأَنَّا كُنَّا نَقْعُدُ مِنْهَا مَقَاعِدَ لِلسَّمْعِ ۖ فَمَن يَسْتَمِعِ الْآنَ يَجِدْ لَهُ شِهَابًا رَّصَدًا ﴿٩﴾ (9) اورہم نے اس کے ٹھکانوں میں سننے کے لیے بیٹھا کرتے تھے پس جو کوئی اب کان دھرتا ہے تو وہ اپنے لیے ایک انگارہ تاک لگانے ہوئے پاتا ہے


जीन्नात का fun और महारते :- 
जीन्नात ऐसी ताकतवर कौम है जो बड़े बड़े इमारतें और दूर दराज से चीजे लाकर दें सकते है ! जीन्नात बड़े बड़े काम कर सकता है ! कुरान पाक मे जिक्र है इसके बारे मे !

Surah saba verse no 12,13
وَلِسُلَيْمَانَ الرِّيحَ غُدُوُّهَا شَهْرٌ وَرَوَاحُهَا شَهْرٌ ۖ وَأَسَلْنَا لَهُ عَيْنَ الْ

पढ़े :- 
1. जीन्नात की आबीदी ( तादाद )
2. Mohabbat KA Amal Surah Falak Ki Taweez Se
जीन्नात की आबीदी ( तादाद )

जीन्नात की आबीदी ( तादाद )

Jinnat KI Tadad (Abadi):-

1) रवायत मे आता है की जो जीन्नात औरतो और मर्दो को सताया करते है वह बहूत सारी किस्मों के होते है ! जीन्नात की 70 कौम होते है और हर कौम मे का 70 हजार क़बीला मे 70 हजार अफराद है मतलब अगर आसमान से सुई फेंकी जाए तो वो ज़मीन पर नही गिरेगी इनके सरो पर रुक जाएगी !


2) अब मैं आपको हज़रत सूफी जी के तजुर्बा के बुनियाद पर बताता हूँ ! अमल और अम्लीयात अगर जादूगर के पास जीन्नतो का बादशाह है तो उस बादशाह के अंदर ज्यादा से जयदा 70000 जिन्न होंगे ! अमौमन बादशाह के अंडर मे 40000 से लेकर 70000 तक जिन्न होते है क्योंकि हज़रत सूफी हफीज ने इतने जिन्न मारे है और बहूत सारे बादशाहों को हराया है ! और उनके किये gye काम के तजुर्बे के हिसाब से इतनी quntity होती है ! जादूगर को सिर्फ 1 दफा बादशाह को काबू करना होता है और इन दोनो का दरम्यान agrement होता है ! और जब agrement तह हो जाता है तो फ़िर जादूगर को सारी जिंदगी ऊन बातो की ताकीद करनी होती है !


बादशाहे नल निजाम का जिक्र कूरान पाक मे
al namal verse no 34

قَالَتْ إِنَّ الْمُلُوكَ إِذَا دَخَلُوا قَرْيَةً أَفْسَدُوهَا وَجَعَلُوا أَعِزَّةَ أَهْلِهَا أَذِلَّةً ۖ وَكَذَ‌ٰلِكَ يَفْعَلُونَ ﴿٣٤﴾ (34) کہنے لگی بادشاہ جب کسی بستی میں داخل ہوتے ہیں اسے خراب کر دیتے ہیں اور وہاں کے سرداروں کو بے عزت کرتے ہیں اور ایسا ہی کریں گے



3 ) अगर जादूगर ने जीन्नतो का सरदार को काबू किया हुआ तो समझ ले उसके पास भरी फौज है ! हज़रत सूफी हफीज के एक अंदाज़न से उस सरदार के कबीले मे 800 से 1200 करीब की तादात मे जीन्नात होते है क्योंकि हज़रत सूफी हफीज कई सरदारों और उनके कबीलों का खात्मा कर चुके है इसलिए मैं उनके कहने पर इनकी तादाद बता रहा हूँ ! सरदार से भी जादूगर को agrement करना पड़ता है और उसको अपनी माँ बहन पेश करनी होती है यहाँ तक की वो अपनी बीबी को भी पेश कर देता है ताकि सरदार खुश हो जाए और जब सरदार खुश हो जाता है तो फ़िर जादूगर की सारी बात मानता है और ऊन दोनो के दरम्यान agrement तह होता है और सरदार कुछ सिफ़लि मोकीलत इस जादूगर की खिदमत के लिए मौहैया कर देता है जो जादूगर की वक्त वक्त मदद करते है !


सरदाररे निजाम का जिक्र कूरान पाक मे
surah al anaam verse no 123

وَكَذَ‌ٰلِكَ جَعَلْنَا فِي كُلِّ قَرْيَةٍ أَكَابِرَ مُجْرِمِيهَا لِيَمْكُرُوا فِيهَا ۖ وَمَا يَمْكُرُونَ إِلَّا بِأَنفُسِهِمْ وَمَا يَشْعُرُونَ ﴿١٢٣﴾ (123) اور اسی طرح ہر بستی میں ہم نے گناہگاروں کے سردار بنا دیےہیں تاکہ وہاں اپنے مکرو فریب کا جال پھیلائیں حالانکہ وہ اپنے فریب کے جال میں آپ پھنستے ہیں مگر وہ سمجھتےنہیں

4 अगर जादूगर के पास जीन्नातो का बहूत बड़ा गिरोह है शेतानौ का तो फ़िर उसके पास लतादत जीन्नात है यानी unlimited ! क्योंकि इस दुनिया मे बहूत से अल्लाह पाक ने शैतान पैदा किए है और जो शेतान है वह शैतान की मदद करता है और ज़रूरत पढ़ने पर शैतानो मे इतना ज्यादा ईतेदाद होता है की वह एक दूसरे के लिए जान भी देने के लिए तैयार रहते है ! शैतानो के गिरोह मे एक बड़ा शैतान हकीम होता है जो इन छोटे शैतानो का leader होता है ! इन शैतानो मे बड़े बड़े आलिम अमेल क्लेम जीन्नात खतरनाक से खतरनाक जादू टोना करने वाले जीन्नात 24 घंटा अमल करके जादू करने वाले जीन्नात होते है ! इन शैतानो को दो चीजे बहूत पसन्द होती है !


1. मिया बीबी को आपस मे लड़ाना
2. औरतो से सेक्स करना

इनको जादूगर का सबसे अच्छा काम वह लगता है जब जादूगर इनको मिया बीबी को जुदा करने का ऑर्डर देता है ! और इनको लड़कियों के साथ sex करने मे बहूत मजा आता है आप खुद गौर करे की एक लड़की अगर किसी भी शख्स से sex करे और मर्द को हुकुम दें तो वो ताले गा ? हरगिज़ नही बल्की वह मर्द उसकी हर बात मानेगा बस यही हाल इन शैतानो का है ! जब जादूगर इनकी हजात पूरी करवा देता है तो यह उस पर निछावर हो जाता है और हर हुक्म मान लेटे है और इस किस्म के जीन्न्नतो को मारो तो यह आते रहते है एक के बाद एक ! अब इस स्थिति मे पूरा गिरोह ख़त्म करना पड़ता है और बहूत समय लगता है और ऐसे जीन्नतो के गिरोह से जान छुड़ाने मे समय लगता है ! किसी की जान छोटी 1 साल किसी की 3 साल मे किसी की 10 साल मे और किसी की 12 साल मे !

गिरोह का जिक्र कूरान पाक मे भी किया गया है 
kafe makamat pa allah tala na
surah al anaam verse no 128
وَيَوْمَ يَحْشُرُهُمْ جَمِيعًا يَا مَعْشَرَ الْجِنِّ قَدِ اسْتَكْثَرْتُم مِّنَ الْإِنسِ ۖ وَقَالَ أَوْلِيَاؤُهُم مِّن makamat pa allah tala na
surah al anaam verse no 128
وَيَوْمَ يَحْشُرُهُمْ جَمِيعًا يَا مَعْشَرَ الْجِنِّ قَدِ اسْتَكْثَرْتُم مِّنَ الْإِنسِ ۖ وَقَالَ أَوْلِيَاؤُهُم مِّن

पढ़े :-
1. Mohabbat KA Amal Surah Falak Ki Taweez Se
2. भूत व प्रेतबाधा मुक्ति के 10 सरल उपाय 
3. Jinaat Bhut Shetaan Ko Chiraag Me Jalane Ka Tarika Hindi Me